ब्रेकिंग न्यूज

बजरंगियों ने घेरा थाना, कहा- पुलिस के पास अवैध वसूली के लिए समय है लेकिन ज्ञापन लेने के लिए नहीं

Deepak Sungra - indoreexpress.com 06-Aug-2019 04:07 am

इंदौर. सोमवार रात बजरंग दल के कार्याकर्ताओं ने भवरकुंआ थाना को घेरकर जमकर नारेबाजी की। बजरंगियों का आरोप है कि पुलिस के पास अवैध वसूली करने के लिए तो समय है लेकिन ज्ञापन लेने के लिए नहीं। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं द्वारा मप्र सरकार द्वारा गोवंश परिवहन के आरोपियों के साथ भीड़ द्वारा की जाने वाली मॉब लिंचिंग पर बनाए गए कानून के विरोध में ज्ञापन दिया गया।
बजरंग दल के नेता तनु शर्मा ने बताया कि कमलनाथ सरकार द्वारा बनाए गए मध्य प्रदेश गो वंश में एक्ट के कुछ प्रावधानों के विरोध में बजरंग दल द्वारा पुलिस को ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन देने के लिए सोमवार सुबह भवरकुंआ थाना प्रभारी को फोन किया गया था। तब थाना प्रभारी ने कहा था कि आप लोग शाम को आना। शाम को जब इस संबंध में कार्यकर्ताओं ने थाना प्रभारी से संपर्क किया तो थाना प्रभारी ने कहा कि अभी उनके पास समय नहीं है अत: बाद में आना।
थाना प्रभारी के इस जवाब से बजरंगी भड़क गए। आपसी चर्चा के बाद सोमवार रात बड़ी संख्या में बजरंगी थाने पहुंचे और घेराव कर नारेबाजी प्रारंभ कर दी। मामले की जानकारी पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को लगते ही थाने पर पुलिस बल बढ़ा दिया गया। अधिकारियों ने बजरंग दल के पदाधिकारियों से चर्चा कर उन्हें समझाया और ज्ञापन लिया।
बजरंग दल के पदाधिकारियों का कहना है कि जनता से अवैध वसूली के लिए तो पुलिस के पास बहुत वक्त है लेकिन ज्ञापन लेने के लिए नहीं। इसी कारण थाने का घेराव किया गया है। इसके साथ ही मप्र सरकार ने गो वंश पर जो कानून बनाया है वह गो रक्षकों के खिलाफ है इस कानून से गो वंश की रक्षा करने में परेशानी हो रही है। बजरंग दल की यह मांग है कि इस कानून को निरस्त किया जाए।

ताज़ा खबर

अपना इंदौर