ब्रेकिंग न्यूज

पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के एमडी नरवाल के कार्यकाल में कामकाज में गुणात्मक सुधार

Deepak Sungra - indoreexpress.com 06-Aug-2019 04:04 am

इंदौर। सामान्यत: आईएएस अफसर एयर कंडीशनर रूम में बैठकर दिशा निर्देश देन, डांट डपट करने और मात्र मिटिंग से सुधार की बात करते देखे जाते हैं, लेकिन इंदौर में एक आईएएस अधिकारी ऐसे हैं जो जमीनी बात करते हैं, मौके पर पहुंचते हैं, तत्काल सुधार की पहल करते हैं। ये अफसर हैं। मप्रपक्षेविवि के मुखिया विकास नरवाल। भारतीय प्रशासनिक सेवा के वर्ष 2008 के बैच के अधिकारी श्री नरवाल फरवरी में इंदौर में मप्र पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध निदेशक यानि एमडी के पद पर आसीन हुए थे, तभी से कंपनी के कामकाज में गुणात्मक सुधार देखने को मिला हैं। बारिश के समय बिजली ज्यादा बंद होने की सूचना पर एमडी श्री नरवाल ने स्वयं का रोज का ग्रिडए बिजली जोन देखने का कार्यक्रम तय किया। वे शहर के अठारह जोन देखने वाले पहले एमडी बने हैं। श्री नरवाल ने डेली कालेज, महालक्ष्मी, अरण्य नगर, विजय नगर, सत्यसांई, मालवा मिल, सुभाष चौक, कालानी
नगर, राज मोहल्ला, राजेंद्र नगर, 7 सिरपुर, गुमास्ता नगर, संगम नगर,मांगलिया ग्रिड, महालक्ष्मी नगर ग्रिड, संचार, नगर ग्रिड एसआरटीएस ग्रिड, गुमास्ता नगर ग्रिड, सत्य सांई नगर ग्रिड, राज मोहल्ला ग्रिड आदि का सघन भ्रमण किया। इस दौरान समस्याओं का समाधान भी कराया, सामान को व्यवस्थित रखवाया गया। इसस 7 जोन व ग्रिड की आंतरिक एवं बाह्य व्यवस्था में बदलाव देखने को मिल रहा हैं। श्री नरवाल का मानना हैं कि जमीनी हकीकत देखकर ही सुधार की कल्पना की जा सकती हैं। समस्या को जाने बगैर सुधार की गुंजाइश देखना दूर के स्वप्न हैं। श्री नरवाल कहते हैं कि बिजली का कामकाज अत्यंत विस्तृत एवं चुनौती वाला हैं। इसमें हम पूरी टीम के साथ सुधार कर रहे हैं। शहर में जरूरी मैंटेनेंस हुआ हैं, सुधार के काम आगे भी होंगे। वर्तमान में शहर का बिजली वितरण जून पहले सप्ताह के औसत वितरण 2351 घंटे से बढक़र रोज 23 घंटे 55 से 23.56 घंटे हो गया हैं। इस तरह शहरवासियों को जुन पहले सप्ताह की तुलना में पांच मिनट ज्यादा सप्लाय मिल रही हैं। शहर अधीक्षण यंत्री अशोक शर्मा ने बताया कि एमडी सर के निर्देशानुसार सभी जोन पर इंतजाम सुधारे जा रहे हैं।
आपूर्ति और उपभोक्ता समस्या निवारण को लेकर 30 जोन में विस्तृत कार्य योजना बनाकर अमल किया जा रहा हैं।

ताज़ा खबर

अपना इंदौर