क्राइम

गुंडों से परेशान महिला ने लगाई फांसी फूटी कोठी चौराहे पर आक्रोशित लोगों ने शव रखकर किया चक्काजाम, पुलिस की कार्यप्रणाली पर लगा प्रश्नचिन्ह

Deepak Sungra - indoreexpress.com 29-Oct-2018 05:25 am


इंदौर (सुरेश कपोनिया)।
प्रजापत नगर में रहने वाली एक महिला ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उसकी मौत के बाद गुस्साए परिजनों ने लोगों के साथ मिलकर आज सुबह फूटी कोठी चौराहे पर चक्काजाम कर दिया। परिजनों का आरोप है कि क्षेत्र के गुंडों ने उनके घर में घुसकर महिला से मारपीट की थी। इस मामले में पुलिस ने भी उनकी शिकायत नहीं सुनी। इससे क्षुब्ध होकर महिला ने खुदकुशी कर ली। चक्काजाम की सूचना मिलते ही पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और किसी तरह आक्रोशित लोगों को समझाइश देकर चक्काजाम समाप्त करवाया। वहीं शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल पहुंचाया।
जानकारी के अनुसार रतिबाई पति प्रकाश पाल ने आज सुबह अपने घर में फांसी लगा ली थी। परिजनों ने उसे देखा तो घटना का पता चला। जैसे ही रतिबाई की मौत की खबर मिली तो उसके घर पर लोग जमा हो गए। तब परिजनों ने शव को फंदे से नीचे उतार लिया था। महिला की मौत के बाद परिजन आक्रोशित हो गए और सैकड़ों लोगों के साथ मिलकर फूटी कोठी चौराहे पर शव रखकर चक्काजाम कर दिया। इस दौरान चौराहे पर चारों और यातायात अवरूद्ध हो गया।
चक्काजाम की सूचना मिलते ही पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। मृतका के पति प्रकाश ने आरोप लगाते हुए बताया कि पड़ोस में रहने वाले गुंडे पप्पू और उसकी पत्नी तथा अन्य गुंडों ने घर रुपयों के लेनदेन में में घुसकर तोडफ़ोड़ मचाई थी और मारपीट की थी। साथ ही पत्नी की कान की बाली भी छिन ली थी।
प्रकाश का कहना था परिजन इसकी शिकायत जब थाने पर करने पहुंचे तो पुलिस ने सुनवाई नहीं की। गुंडों की धमकी से परेशान होकर उसने पत्नी फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। परिजनों का आरोप है कि पुलिस की लापरवाही के चलते महिला की मौत हुई है। परिजनों का कहना था कि गुंडा पप्पू राजनीतिक दल से जुड़ा हुआ है। इसलिए पुलिस ने मामले में कार्रवाई नहीं की। उधर, सूत्र बताते हैं कि परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने अदम चेक जरूर काटा था, लेकिन ठोस कार्रवाई नहीं की।
चक्काजाम की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने परिजनों और आक्रोशित लोगों को समझाइश देकर मामले में कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया, तब कहीं जाकर जाम समाप्त हुआ। इसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल पहुंचाया। इसके बाद पुलिस चौराहे पर यातायात व्यवस्थित करने में कई घंटों की मशक्कत करना पड़ी
जन्मदिन मनाकर लौटी
और लगा ली फांसी
एक युवती कल रात अपने दोस्त का जन्मदिन मनाकर लौटी और कमरे में जाकर फांसी लगा ली। जानकारी के अनुसार कनाडिय़ा थाना क्षेत्र में रहने वाली माधुरी पिता गोपाल विश्वास ने कल रात अपने कमरे में फांसी लगा ली। किसी काम से जब परिजनों का उसके कमरे में जाना हुआ तो वह फंदे पर लटकी मिली। तत्काल उन्होंने उसे नीचे उतारा और एमवाय अस्पताल लेकर आए, जहां डॉक्टरों ने बताया कि उसकी मौत हो चुकी है। परिजनों के अनुसार माधुरी के दो छोटे भाई बहन है। कल रात वह किसी दोस्त के जन्मदिन की पार्टी में गई थी, यहां से लौटने के बाद खुदकुशी कर ली। मामले में अस्पताल की सूचना पर पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है।
एक अन्य ने भी दी जान
इसी प्रकार जबरन कालोनी में रहने वाले मनीष पिता रामचंद्र प्रजापत ने भी कल रात फांसी लगा ली। मामले में पुलिस का कहना है कि मनीष ने किन कारणों के चलते अपनी जान दी, इसका खुलासा परिजनों के बयान और जांच के बाद ही हो सकेगा।

ताज़ा खबर

अपना इंदौर