कारोबार

सस्ता लहसून खरीदार नहीं

Deepak Sungra - indoreexpress.com 18-Oct-2018 05:16 am


इंदौर (सुरेश कपोनिया)।
चोइथराम और छावनी मंडी में इन दिनों लहसून के भाव 5 रुपए किलो तक हो गए है। बावजूद इसके खरीदार नहीं आ रहे है जिससे भारी मात्रा में लहसून के सडऩे की संभावना बढ़ गई है। हर दिन करीब 500 कट्टे आसपास के क्षेत्रों से मंडियों में पहुंच रहे है। इसी प्रकार आलू भी 8 से 10 रुपए किलो तक हो गया है। हालांकि सब्जियों के भाव में जरूर 2 से 5 रुपए प्रति किलो की वृद्धि हुई है।
त्यौहारी सीजन में सब्जियों के भाव में जहां वृद्धि हो रही है। वहीं लहसून व आलू के भाव में गिरावट आ गई है। मंडियों में 5 रुपए किलो में भी लहसून खरीदने वाले नहीं मिल रहे है। किसान लहसून के कट्टे लाकर मंडियों में भाव का इंतजार करते रहते है। व्यापारी भी किसानों से कम भाव के चलते लहसून खरीदने में हिचक रहे है। चोइथराम और छावनी अनाज मंडी में ग्रामीण इलाकों से 500 से अधिक कट्टे लहसून के हर दिन जहां आ रहे है। वहीं आलू भी भारी मात्रा में मंडियों में पहुंच रहा है। आलू का भाव 8 से 10 रुपए किलो है। शहर की अलग-अलग सब्जी मंडियों में यह भाव 15 रुपए किलो के आसपास रहता है। हालांकि नवरात्रि में आलू की खपत बढ़ जाती है फिर भी भाव में बढ़ोतरी नहीं है। धनिया की आवक भी कम है। जबकि अन्य सब्जियों के भाव 20 रुपए किलो से अधिक है।

ताज़ा खबर

अपना इंदौर