ब्रेकिंग न्यूज

कारोबार

लोडिंग वाहन में ऊपर गद्दे व कुर्सियां रखी थी और अंदर छिपी थी शराब

Deepak Sungra - indoreexpress.com 29-Jun-2018 01:34 am


इंदौर. बायपास से आबकारी विभाग की टीम ने एक लोडिंग वाहन बोलेरो पिकअप को जब्त किया। गाड़ी में ऊपर तो टेंट हाउस के गद्दे व कुर्सियां रखी थी लेकिन उसके नीचे छिपाकर करीब 100 पेटी विदेशी शराब थी। आबकारी विभाग ने गाड़ी में से एक आरोपित को गिरफ्तार करते हुए साढ़े सात लाख की शराब जब्त की है। शराब ड्राय स्टेट गुजरात भेजन की बात सामने आ रही है।
आबकारी विभाग के कंट्रोल रूम इंचार्ज अवधेश पांडे के मुताबिक, अवैध शराब की तस्करी की सूचना पर टीम ने बायपास पर घेराबंदी की थी। यहां से एक लोडिंग वाहन को जब्त किया गया। चेकिंग करने पर पीछे टेंट हाऊस के गद्दे व कुर्सियां दिखी। सब इंस्पेक्टर संतोष कुशवाह, देवेंद्र चंंदेल, कमलेश की टीम ने छानबीन की तो नीचे विदेशी शराब की पेटियां दिखी। गाड़ी से जितेंद्र महाजन निवासी सुखलिया को गिरफ्तार किया गया। गाड़ी से करीब 100 पेटी वोदका, व्हीस्की की बोतलें मिली जिसकी कीमत करीब साढ़े 7 लाख रुपए बताई जा रही है। आरोपित का कहना है कि उसे गुलाबबाग के पास एक व्यक्ति ने लोडिंग वाहन सौंपा था और उसे गुजरात ले जाना था। शराब किसकी है और किसे देना है उसकी जानकारी उसे नहीं है। गाडी उज्जैन पासिंग है। नंबर के आधार पर छानबीन की जा रही है।
गुजरात में है शराब बिक्री पर प्रतिबंध
गुजरात में शराब बिक्री पर प्रतिबंध लगा हुआ। बताया जा रहा है कि गुजरात में मुंह मांगे दाम पर शराब बेची जाती है। शराब की मांग होने से वहां अवैध रूप से शराब की तस्करी काफी होती है। इंदौर, धार, झाबुआ इलाके से वहांं बड़े पैमाने पर शराब पहुंचाई जाती है। अवैध शराब की खेप तो पुलिस व आबकारी विभाग ने कई बार पकड़ी लेकिन हर बार मुख्य आरोपित नहीं पकड़ में आते है। इस केस में भी शराब कौन पहुंचा रहा था और किसके पास जाना थी इस बारे में आबकारी विभाग खाली हाथ है।

ताज़ा खबर

अपना इंदौर