ब्रेकिंग न्यूज

विदेश

अमरीका: मैरीलैंड अखबार के दफ्तर पर गोलीबारी में 5 की मौत, हमलावर गिरफ्तार

Deepak Sungra - indoreexpress.com 29-Jun-2018 01:40 am


वाशिंगटन। अमरीका में एक सिरफिरे व्‍यक्ति ने एक बार फिर गोलीबारी की घटना के अंजाम दिया है। यह घटना अमरीका के मैरीलैंड स्थित एनापोलिस शहर की है। हमले की घटना को एक अखबार के दफ्तर में अंजाम दिया गया है। गोलीबारी की इस घटना में पांच लोगों की मौत हुई है। इसके साथ ही कई लोग घायल भी हुए हैं।
30 साल का है आरोपी हमलावर
अमरीकी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गोलीबारी करने वाले ने एक अखबार के दफ्तर पर हमला किया है। घटना के बाद पुलिस ने गोलीबारी कर रहे शख्स को गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही आसपास के इलाके में बड़ी संख्या में पुलिस तैनात कर दी गई है। हमलावर शख्‍स की उम्र 30 साल बताई जा रही है जो मैरीलैंड का ही रहने वाला है। अभी तक घटना के कारणों का पता नहीं चल पाया है। हमलावार से पुलिस की पूछताछ जारी है। इस घटना के बारे में पुलिस ने अभी तक कोई बयान जारी नहीं किया है।
कैलिफोर्निया में मारे गए थे छह लोग
अमरीका के कैलिफोर्निया राज्य में भी 24 मई को भीएक चलती कार से हुई गोलीबारी की घटना को अंजाम दिया गया था। इस घटना में छह लोग मारे गए थे। गोलीबारी की ये घटना सांता बारबरा शहर के इस्ला विस्ता इलाके में हुई थी यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया सांता बारबरा के पास है। इस इलाके में ज्यादातर छात्र ही रहते हैं। इस घटना में सात लोग घायल भी हुए थे। इस घटना के हमलावर को कुछ देर बार स्‍थानीय पुलिस ने मुठभेड़ मे मार गिराया था। इस घटना के बारे में एक चश्‍मदीद गवाह ने स्‍थानीय पुलिस को बताया था कि एक बीएमडब्लयू कार में सवाल एक आदमी ने गोलीबारी की है। वही लोगों पर गोलियां चला रहा था। आपको बतादें कि इस घटना में एक लड़की की भी मौत हुई थी।ह गेंद को गोल में नहीं डाल पाए।
पिकफोर्ड ने गोल के अंतर को बढ़ने नहीं दिया
मैच के 51वें मिनट में बेल्जियम के मिडफील्डर योउरी तिएलमेंस ने दाईं छोर पर अदनान यानुजाय ने बॉक्स के अंदर डिफेंडर को छकाते हुए अपने बाएं पांव से शानदार गोल दागते हुए अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी। एक गोल से पिछड़ने के बाद इंग्लैंड अपने खेल में आक्रामकता लेकर आई। इंग्लैंड के रैशफोर्ड को 66वें मिनट में बराबरी का गोल करने का बेहतरीन मौका मिला। रैशफोर्ड को बेल्जियम के बॉक्स के बाहर गेंद मिली और उन्हें केवल विपक्षी टीम के स्टार गोलकीपर थिबॉट कर्टुआ को छकाना था लेकिव वह ऐसा नहीं कर पाए। रैशफोर्ड के असफल प्रयास के बावजूद इंग्लैंड ने बराबरी का गोल करने के लिए अपने आक्रामक खेल को जारी रखा जिसके कारण मैच के अंतिम क्षणों में बेल्जियम को अपनी बढ़त को दोगुना करने का मौका मिला। हालांकि, पिकफोर्ड ने गोल के अंतर को बढ़ने नहीं दिया।

ताज़ा खबर

अपना इंदौर