इंदौर

किसान आंदोलन का भय खरददारी के लिए सब्जी मंडी में उमड़ा शहर

Deepak Sungra - indoreexpress.com 30-May-2018 04:19 am


इंदौर (सुरेश कपोनिया)।
दो दिन बाद किसानों के प्रारंभ हो रहे आंदोलन से शहर में घबराहट का माहौल दिखाई दे रहा है। आज दोनों सब्जी मंडियों में जबर्दस्त खरीदी हुई। रोज से आज पांच गुना तक ग्राहकी जहां बढ़ी है, वहीं कारोबार भी 75 लाख से अधिक का हो गया है। परिवारों ने अपने घरों में 6 से 7 दिन सब्जी का स्टाक करने के साथ ही आलू, प्याज भी भरपूर खरीद लिए है। वहीं पांच रुपए में 50 ग्राम बिकने वाला धनिया भी 25 रुपए तक चला गया। सब्जी व्यापारियों ने कल छुट्टी के बाद 1 तारीख को भी मंडी बंद रखने का निर्णय लिया है। यानि हड़ताल के संकेत व्यापारियों को भी मिल चुके है। इधर, दूध को लेकर भी आज खींचतान दिखाई दी।
आज सुबह से इंदौर की चोइथराम सब्जी मंडी और निरंजनपुर सब्जी मंडी में सुबह से ही ग्राहकों की आवक प्रारंभ हो गई थी। इसके अलावा किसान भी भरपूर फसल लेकर मैदान में उतरे थे। रोज से दोगुनी से तीनगुनी आवक मंडी में देखने को मिली। कुछ ही घंटों में सारा माल साफ हो गया। निरंजनपुर मंडी के सचिव सतीश शर्मा ने बताया कि आज सब्जी मंडी में 25 लाख से अधिक का कारोबार हुआ है। जबकि रोज 5 से 7 लाख रुपए के बीच होता था। इधर आज किसान आंदोलन के डर से सब्जियों के भाव भी दोगुने तक पहुंच गए है। यही स्थिति चोइथराम मंडी की भी है जहां पिछले तीन दिनों से जबर्दस्त आवक बनी हुई है। वहीं मंडी में सब्जियों के भाव भी दोगुने से तीन गुने तक देखने को मिल रहे है। प्रतिदिन मंडी में सब्जी खरीदने वालों से पांच गुना तक लोग यहां पहुंचे और 6 से 7 दिन की सब्जी का स्टाक करते देखे गए। तीन गुना तक यहां कारोबार आज हुआ है। कुल मिलाकर दोनों, तीनों मंडियों में 75 लाख रुपए तक कारोबार आज देखा गया। आज सबसे ज्यादा आवक कद्दू, आलू, सहित अरवी और अन्य सब्जियों की रही।

ताज़ा खबर

अपना इंदौर