ब्रेकिंग न्यूज

इंदौर

नगर निगम ने पेश किया बजट हर घर से कचरे के लिए 100 रुपए वसूलेंगे

Deepak Sungra - indoreexpress.com 04-Apr-2018 06:13 am


इंदौर (सुरेश कपोनिया)।
आज नगर निगम ने अपना वर्ष 2018-19 के लिए अपना बजट जारी करते हुए दावा किया कि इस बार भी शहर स्वच्छता में नंबर-1 पर बना रहेगा। वहीं विकास को गति देते हुए सभी 85 वार्ड में सडक़ निर्माण से लेकर पेवर ब्लॉक और उद्यान के निर्माण किये गये हैं। इस परिषद ने 2158 का आर्डर जारी कर 390 करोड़ का कार्य किये हैं और 1000 वर्क आर्डर बजट के बाद जारी होंगे। 29 गांव जो शहर से जुड़े हैं, उनके लिए विशेष योजना बनाई गई है। अमृत योजना के तहत ग्रीन डेवलपमेंट और सिवरेज के लिए 866 करोड़ रुपए व्यय किये गये। महापौर ने शहर के सभी नागरिकों से नियमित रूप से स्वच्छता अभियान में मदद लेने का आग्रह भी इस अवसर पर किया। साथ ही उन्होंने कुछ शेर भी सुनाए जिसमें -
समेटे हुए वो अपने अंदर जज्बे का समंदर, प्रणाम करती हूं ऐसे कर्मचारियों को जिन्होंने इंदौर को नंबर-1 बनाया......आपने बताया कि महापौर हेल्पलाइन को भी जबरदस्त प्रतिषाद मिला है। 1 लाख 33 हजार शिकायतें प्राप्त हुई है। जिसमें 1 लाख से अधिक शिकायतों का 24 घंटो से पहले निराकरण किया गया। डोर-टू-डोर कलेक्शन में भी व्यापक सुधार आया है। आज महापौर ने 4 हजार करोड़ के बजट को प्रस्तुत करते हुए शहर को दी गई सौगातों का भी जिक्र किया। आपने कहा कि इस परिषद ने पैदल चलने वालों से लेकर वाहनों पर चलने वालों तक के लिए सुविधाएं प्रकाश व्यवस्था, यातायात प्रबंधन सहित 12 विषयों पर विशेष कार्य किये। अभी भी इस क्षेत्र में कई कार्य किये जाने हैं। आपने कहा कि मैं दिन प्रतिदिन नियमित रूप से इंदौर के लिए काम करूंगी, ऐसा अभियान हर वार्ड में स्वच्छता के लिए चलाया जाएगा। आपने यह भी कहा कि सबसे ज्यादा चौराहों पर लेफ्टटर्न को लेकर आने वाली दिक्कतों को दूर किया। शहर के कई चौराहें अब पूरी तरह चौड़े हो चुके हैं। 10 चौराहों पर ट्राफिक सिग्नल भी लगा दिये गये हैं।
तीन इमली, न्यू पलासिया सहित अन्य क्षेत्रों में लेफ्टटर्न के लिए 100 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। शहर के फीडर रोड निर्माण भी चार चरण में पूर्ण किये गये हैं, इसमें बंगाली चौराहे से बायपास, सांकेत चौराहे से मनीषपुरी, उज्जैन रोड से इलेक्ट्रानिक कॉम्पलेक्स, केसर बाग से अन्नपूर्णा रोड तक प्रमुख रूप से शामिल है।
आगामी गर्मी को देखते हुए 275 टेंकरों से पानी की व्यवस्था कर दी गई है। इस बार पानी की समस्या कहीं पर भी नहीं आने दी जाएगी। आपने अपने बजट भाषण में यह भी कहा कि मस्टरकर्मियों को स्थाई करने के साथ ही उन्हें नगर निगम में शामिल कर लिया गया है। इसके अलावा संपत्तिकर के मामले में उन्होंने कहा कि अभी तक उन्होंने किसी प्रकार का नया कर नहीं लगाया है। 2016-17 में 439 करोड़ रुपए की वसूली की गई है। 2016-17 में 25 हजार से अधिक नये खाते खोले गये थे। 17-18 में 32 हजार से अधिक खाते खोले गये। बीआरटीएस पर 9 फूट ओव्हर ब्रीज बनाने के लिए भी तैयारी कर ली गई है। आपने कहा कि नई होर्डिंग नीति क ेबाद नगर निगम को 366 स्थानों पर विज्ञापन अधिकार देने के बदले में 3 करोड़ 94 लाख की राशि मिलेगी जो अब तक की सबसे बड़ी राशि है। कचरे के बारे में आपने कहा कि इस समय 600 से अधिक वाहन गीला और सूखा कचरा उठा रहे हैं। 600 टन से अधिक का गीला कचरा और 465 टन सूखा कचरा प्रतिदिन ट्रेचिंग ग्राउंड पहुंच है। जिससे 50 टन खाद्य का निर्माण किया जा रहा है। अब ट्रेचिंग ग्राउंड कचरे की समस्या से पूरी तरह मुक्त हो चुका है। कचरे को एकत्र करने के लिए डोर-टू-डोर कलेक्शन में 40 करोड़ की राशि आ रही है। जबकि 160 करोड़ रुपए खर्च हो रहे हैं। इसलिए घरेलू कचरे को एकत्र करने की दर 100 रुपए और व्यवसायिक दर 150 रुपए करना प्रस्तावित किया गया है। यातायात के संदर्भ में आपने कहा कि शहर में वर्तमान में 65 मीडी बसे और 140 अटल सिटी बसों का संचालन किया जा रहा है। 70 हजार से अधिक यात्री इनमें यात्रा करते हैं। अमृत योजना के अंतर्गत इंदौर में 260 अटल सिटी बसें चलना प्रस्तावित की गई है। इसके अलावा इंदौर में 40 नई इलेक्ट्रीक बसों को भी मंजूरी मिल चुकी है।

ताज़ा खबर

अपना इंदौर