स्पोर्ट्स

सेंचुरियन में भारतीय बल्लेबाजों के सामने बड़ी चुनौती, पिच पर होगा ज्यादा पेस और बाउंस

Deepak Sungra - indoreexpress.com 11-Jan-2018 04:10 am


नई दिल्ली
फ्रीडम सीरीज के पहले टेस्ट मैच में 72 रन की हार के बाद भारतीय टीम ने सेंचुरियन का रुख किया है। केप टाउन के सूखे में भी जिस कदर पेस और बाउंस से भारत के बल्लेबाजों को परेशानी का सामना करना पड़ा था, उससे कहीं ज्यादा पेस और बाउंस का सामना सेंचुरियन में करना पड़ सकता है। साउथ अफ्रीका में इतिहास बदलने के इरादे से गई भारतीय टीम की राह आगे और मुश्किल है।
मेजबान की फरमाइश
पहले मैच में पेस बोलर्स के बूते जीतने वाली मेजबान साउथ अफ्रीकी टीम मैनेजमेंट ने शनिवार को सेंचुरियन में शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट मैच के लिए और तेज और उछाल वाली पिच की मांग रखी है। सेंचुरियन के ग्राउंड्समैन ब्रायन ब्लॉय ने इस बाबत बुधवार को खुलासा किया कि साउथ अफ्रीकी खेमे से जो सेंचुरियन के लिए संदेश आया है, उसमें दो बातें अहम हैं: ज्यादा पेस और ज्यादा बाउंस। ब्लॉय की मानें, तो इस संदेश पर अमल कर और तेज और बाउंसी पिच तैयार की जा रही है।

सात साल पुरानी याद
भारतीय टीम साउथ अफ्रीका के साथ अपने 25 बरस के द्विपक्षीय टेस्ट इतिहास में केवल एक ही मैच सेंचुरियन में (दिसंबर 2010 में) खेली है। उसे पारी और 25 रन की करारी हार का सामना करना पड़ा था। वजह यह थी कि पहली पारी में भारतीय बल्लेबाज पेस ओर बाउंस के सामने खड़े ही नहीं हो पाए।

ताज़ा खबर

अपना इंदौर