ब्रेकिंग न्यूज

इंदौर

श्रम विभाग व चाइल्ड लाइन ने कारखाने में काम करने वाले बाल श्रमिकों को मुक्त कराया

Deepak Sungra - indoreexpress.com 30-Nov-2017 05:07 am


इंदौर (सुरेश कपोनिया)।
उत्तरप्रदेश से काम करने लाए बच्चों को श्रम विभाग और चाइल्ड लाइन ने मुक्त करवाया। यह कार्रवाई छोटा बांगड़दा क्षेत्र में की गई, जिसमें 17 बाल श्रमिकों को मुक्त कराया गया है। इनमें से 7 बच्चों की उम्र 14 से भी कम है। बुधवार को सतना से आए 4 बच्चे सदर बाजार में बांगड़दा क्षेत्र के कारखानों का पता पूछ रहे थे। पुलिस ने उन्हें कस्टडी में लिया और चाइल्ड लाइन को सूचना दी। काउंसिलिंग में पता चला कि मोतीतबेला से बैग कारखाने बांगड़दा में शिफ्ट हो गया है। वहां बड़ी संख्या में बच्चे काम कर रहे हैं। जब टीम ने वहां छापा मारा तो बच्चे बहुत बुरी हालत में काम करते मिल। ज्यादातर बच्चों के आधार कार्ड या वोटर आईडी में एक ही जन्मतिथि 1 जनवरी 1998 लिखी थी। अधिकारियों को शक है कि बच्चों की उम्र ज्यादा दिखाने के लिए संभवत: फर्जी परिचय पत्र बनाए गए हैं। चाइल्ड लाइन समन्वयक शशेन्द्र दुबे का कहना है कि सभी बच्चों का मेडिकल करवाकर उम्र का परीक्षण करवाया जा रहा है। कारखाना मालिक के खिलाफ चालानी कार्रवाई की जा रही है।

ताज़ा खबर

अपना इंदौर